Connect with us

Horror stories

Horror Stories in hindi

Horror-stories-in-hindi

Horror Stories in Hindi | रणसी गाँव की भूत बावड़ी | ransi gaav ki bhoot bavdi

नमस्कार दोस्तों, आपने हमारे ब्लॉग पर बहुत सी रोचक कहानियाँ पढ़ी होंगी जैसे नैतिक शिक्षा की कहानियाँ, प्रेणादायक कहानियाँ ,बेड टाइम की कहानियाँ।  लेकिन आज जो कहानी हम आपके लिए लेकर आये है वो थोड़ी सी डरावनी है.

Bhoot ki Kahani लगभग हर किसी को पसंद है लेकिन क्या हो अगर यह किस्से सिर्फ किस्से ना रहकर एक हकीकत में आपके सामने आ जाये ?

आज की युवा पीढ़ी इन भूत-प्रेत और आत्माओं के होने पर विश्वास नहीं करती लेकिन आप के विश्वास नहीं करने से वह असल में है ही नहीं यह तो संभव नहीं है आज हम आपका परिचय ऐसे ही भूतहा स्थान से करवाने जा रहे हैं जिसके बारे में कहा जाता है कि इसका निर्माण स्वयं एक आत्मा ने किया था.

जोधपुर (राजस्थान) स्थित बावड़ियों के किस्से स्थानीय लोगों में बहुत ही मशहूर हैं. यहां पानी की कई बावड़ियां हैं

जिनमें से एक के बारे में कहा जाता है कि उसे भूत ने बनवाया था.इसे भूत बावड़ी bhoot bawadi  के नाम से जाना जाता है।

Read More – Panchtantra Stories in Hindi:

जोधपुर से लगभग 90 किलोमीटर दूर पूर्वोत्तर में ‘रठासी’ नाम का एक ऐतिहासिक गांव है. मारवाड़ का इतिहास इस बात का साक्षी है कि जब जोधपुर में रहने वाले राजपूतों की चम्पावत शाखा का विभाजन हुआ तो उनमें से अलग हुए एक दल ने कापरडा गांव में रहना शुरू किया.

लेकिन इस स्थान पर रहने वाले युवा राजपूतो ने गांव में साधना करने वाले साधुओं को परेशान करना शुरू कर दिया. तब उस बात से क्रोधित होकर साधुओं ने उन राजकुमारों को श्राप दिया कि उनके आने वाला वंश इस गांव में नहीं रह पायेगा.

साधुओं के श्राप से भयभीत हो कर वे सब उस गांव को छोड़कर चले गए. इस गांव को छोड़कर वह जिस गांव में रहने के लिए गए उस गांव का ही नाम है रठासी गांव.

यह जोधपुर से लगभग 90 किलोमीटर की दूरी पर स्थित एक ऐतिहासिक गांव है. इस गांव में एक बावड़ी है जिसके बारे में ये कहा जाता है कि उससे भूतों के सहयोग से बनाया गया है

ठाकुर जयसिंह के महल में स्थित बावड़ी इतनी चर्चित है कि आज भी लोग बहुत दूर-दूर से उन्हें देखने आते हैं।

रहस्यमयी बावडी के विषय में कहा जाता है कि एक बार जब ठाकुर जयसिंह घोड़े पर सवार होकर जोधपुर से रठासी गांव की ओर जा रहे थे तब उनके साथ-साथ चलने वाले सेवकों से काफी आगे निकल गए और इतने में रात हो गई.

राजा का घोड़ा भी काफी थक चुका था और उसे बहुत प्यास भी लगी थी. रास्ते में एक तालाब को देखकर ठाकुर जयसिंह ने अपने घोड़े को रोका और नीचे उतरकर घोड़े को पानी पिलाने के लिए उस तालाब के पास पहुंचे।.

आधी रात का समय था घोड़ा जैसे ही आगे बढ़ा राजा को एक आकृति दिखाई दी जो धीरे-धीरे इंसानी रूप में आ गयी . राजा उसे देखकर डर गया, उस भूत ने राजा को कहा कि भी बहुत मुझे प्यास लगी है किन्तु  एक श्राप के कारण मैं इस कुएं का पानी को नहीं पी सकता.

मुझे भी पानी पीला दीजिये  राजा ने उस भूत को भी पानी पिलाया,राजा की इस दयालुता को देखकर भूत ने उससे कहा किआप जो भी आदेश देंगे, उल से मैं पूरा करूँगा।

राजा ने आत्मा को कहा कि वह उसके महल में एक बावड़ी का निर्माण करे और उसके राज्य को सुंदर बना दे. आत्मा ने राजा के आदेश को स्वीकारते हुए कहा कि वो ये कार्य प्रत्यक्ष रूप से नहीं अप्रत्यक्ष रूप से पूरा करेगा,दिनभर में जितना भी काम होगा वह रात के समय 100 गुना और बढ़ जाएगा.

उस आत्मा ने राजा को कहा किन्तु आप इस रहस्य को किसी को नहीं बताएंगे.जिस दिन भी यह भेद खुला , उसी दिन मेरा काम खत्म हो जाएगा।

Read – Real Ghost Story in Hindi – मरने के बाद हमें बचाने के लिए आई थी

अगले ही दिन से महल एवं बावड़ी Bhoot Bawadi  की इमारतें बनने लगीं।  लगीं,पूरे गांव में कौतुहल छा गया की महल से रात में पत्थर ठोंकने की रहस्यमय आवाजें आती है , दिन-प्रतिदिन निर्माण कार्य बहुत गति से आगे आगे बाद रहा था ।

एक दिन रानी साहिबा ने महल व बावड़ी के विस्तार का रहस्य पूछा तो ठाकुर साहब ने उन्हें भी वो राज बताने से साफ इन्कार कर दिया।

रानी रूठ गई और अनशन पर बैठ गयी । कई दिनों तक अनशन करने के कारण रानी का स्वास्थ्य बिगड़ने लगा। रानी के जिद के आगे राजा हर गया और आख़िरकार राजा ने यह राज रानी को बता ही दिया.

ठाकुर ने यह राज जैसे ही रानी को बताया सारा काम वहीं रुक गया.

और सात मंजिला महल केवल दो मंजिला ही बन कर रह गया और पानी की बावड़ी का अंतिम हिस्सा, दीवार भी अधूरी ही रह गई जो आज भी ज्यों का त्यों ही है

बावड़ी Bhoot Bawadi की गहराई लगभग दो सौ फ़ुट से भी अधिक होगी । इसमें नक्काशीदार चौदह खम्भे हैं तथा अन्दर जाने के लिए 174 सीढ़ियाँ हैं।

सबसे अधिक आश्चर्यजनक की बात यह है कि बावड़ी में बड़े-बड़े पत्थर लॉक तकनीक से लगाये गये हैं, जो की अधरझूल होने पर भी गिरते नहीं हैं।

True Horror Stories in Hindi

Real Horror Story in Hindi | कुलधरा भूतों का गांव | Mystery of the Haunted Village Kuldhara

Friend ummed hai aap sb ko Horror stories in Hindi pasand aayi hogi. friends aap sb ke liye hum yu hi acchi – acchi botiya Stories Leke aate rahege, bas aap sb ka pyar yu hi milta rhe. dosto aap sab ke pyar ki vjha se humne bhaut ki kaam time mai ek acchi friendlist pa li hai iske liye aap sb ka dil se Big Thanks .

3 Comments

3 Comments

  1. Pingback: Bhoot Ki Kahani - Hindi Story | Latest Love Status, Sad Status & Attitude Status | FB Status in Hindi

  2. Pingback: Tenali Ramakrishna Stories in Hindi - Hindi Story | Latest Love Status, Sad Status & Attitude Status | FB Status in Hindi

  3. Pingback: Panchatantra Stories in Hindi - Hindi Story | Latest Love Status, Sad Status & Attitude Status | FB Status in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © 2020 Wishestatus Theme by Nikunj, powered by WordPress.